सनातन धर्म से ही विश्व में शांति संभव : डॉ. सुमन

बासुकीनाथ : हिन्दू जागरण मंच के विभागीय बैठक रविवार को टाटा धर्मशाला में हुई। जिसमें देवघर विभाग के देवघर, दुमका, जामताड़ा, गोड्डा के जिला अधिकारियों के अलावा चार आयाम के बेटी बचाव प्रमुख, वीरांगना प्रमुख, विधि प्रमुख व युवा वाहिनी प्रमुख ने संघटनात्मक विस्तार के लिए कई निर्णय लिए।

बैठक का शुभारंभ मंच के अधिकारियों ने भारत माता की तस्वीर पर पूजन व आरती के साथ किया। विभाग के चारों जिलाध्यक्ष ने संयुक्त रूप से दोनों वरीय अधिकारियों को सिदो-कान्हू की तस्वीर भेंट की। आरएसएस के वरिष्ठ प्रचारक सह हिन्दू जागरण मंच के क्षेत्रीय संगठन मंत्री डॉ. सुमन कुमार ने कहा कि हिन्दू जागरण मंच हिन्दू समाज के सुरक्षा का गारंटर है। हर कोई अपने धर्म विस्तार व वर्चस्व स्थापित करने के लिए खूनी संघर्षो व हिसा के रास्ते पर चल रहा है। सनातन, हिन्दू धर्मावलम्बी कभी धर्म विस्तार की लालसा नहीं पाले हैं। ना ही रक्तपात किया। ऐसे में आज पूरे विश्व बिरादरी की निगाहें भारत की ओर टिकी है। भारतीय धर्म दर्शन, जीवन पद्धति, संस्कृति व यहां के माटी के संस्कारों में शांति व मानव कल्याण के बीज निहित है। पूरे संसार को हमने परिवार माना है। सनातन धर्म ही विश्व में शांति ला सकता है। मानव सभ्यता को संरक्षित, सुरक्षित रख सकता है। विश्व में सिर्फ सनातन हिन्दू धर्म ही एकमात्र धर्म है जिसके पीछे स्वर्णिम रिकॉर्ड है। हिदुओं ने कभी धर्म विस्तार के लिए रक्तपात नहीं किया ये सभी के लिए एक सबक है। समाज जितना संगठित रहेगा, राष्ट्र उतना ही सुरक्षित होगा। भारतभूमि हमारे लिए सिर्फ जन्मस्थली भर नहीं है वरन इस भूमि ने देवों को जन्म दिया। दानवों को संहार कर मानवता की रक्षा की। राष्ट्र के मजबूती में ही सबकी भलाई है। इसलिए देश के सभी लोग एक भारत, श्रेष्ठ भारत को अपना लक्ष्य मानें और इसे अपने जीवन में आत्मसात करें। सभी को आपसी मतभेदों को भूलकर एक भारत श्रेष्ठ भारत के निर्माण में लग जाएं। उन्होंने कहा कि हिन्दू जागरण मंच समाज का प्रहरी है। ये स्वयं जागता है और सम्पूर्ण समाज को भी जागृत करने का प्रयास करता है। हिन्दू जागरण मंच का उद्देश्य ही, जागृत हिन्दू-समर्थ भारत है। यह सम्पूर्ण हिन्दू समाज का प्रतिनिधितत्व कर रहा है। भारतीय संस्कृति की रक्षा करना हर देशवासी का कर्तव्य है।

सभी कार्यकर्ताओं में समर्पण का भाव होना चाहिए। बैठक में झारखंड प्रांत उपाध्यक्ष विक्रम मिश्र, युवा वाहिनी सह संयोजक समित सिंह, परगना प्रमुख रवींद्र टुडू, विभाग संयोजक सह दुमका जिलाध्यक्ष रूपेश कुमार, जनजातीय प्रमुख दर्शन हेंब्रम, पांडेय विश्वजीत, पवन ठाकुर, मनोज हांसदा, राहुल, लुखिराम बाबा, प्रशांत कुमार, संतोष मुर्मू, दिनेश कापरी, मुन्नी हांसदा, संतोष, वंशीधर मिश्र, कल्याणी कुमारी, मंजू हांसदा, श्रीमती हेम्ब्रम, अभिषेक मंडल, अजय कुमार, मोहन साह, अंचला सिंह, शिला मरांडी, सलोनी टुडू, पिकी गुप्ता, सीता राम जायसवाल, रजनीलता मिश्र, संजय मरांडी, संजीत आंनद, प्रदीप कुमार, भोला साह, संतो बेसरा, नूतन देवी, महेश ठाकुर, राजेंद्र सोरेन आदि कार्यकर्ता मौजूद थे।

Source: Jagran.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

*